For the best experience, open
https://m.grehlakshmi.com
on your mobile browser.

यहां जानिए हरियाणा के 3 फेमस अचार की विधि

हर राज्य का अचार बनाने का अपना तरीका होता है। आम का अचार हर राज्य में अलग तरीके से बनाया जाता है और स्वाद भी जुदा होता है। यहां जानिए हरियाणा के आम के मीठे अचार की विधि।
03:16 PM Jan 15, 2021 IST |
यहां जानिए हरियाणा के 3 फेमस अचार की विधि
Advertisement

अचार का नाम लो और मुंह में पानी न आए ऐसा नहीं हो सकता है। भारत के हर राज्य में अचार बनते हैं और खाए जाते हैं, लेकिन उनका अपना बनाने का तरीका और स्वाद होता है। आम का अचार तो इंडिया में सबसे ज्यादा खाया जाता है, लेकिन आम का अचार हर राज्य में अलग तरह से बनाया जाता है। ऐसे ही हरियाणा राज्य में आम का मीठा अचार बनाया जाता है जो कि काफी फेमस है। इसके अलावा हरी मिर्च का अचार न हो तो कुछ अधूरा सा लगता है। टेंटी का अचार भी हरियाणा के फेमस अचारों की लिस्ट में है। टेंटी का अचार जिस तरह हर प्रदेश का अपना एक अचार होता है, ठीक उसी तरह हरियाणा में भी इस अचार को खूब चटाकरे लेकर खाया जाता है।

टेंटी का अचार

सामग्र

Advertisement

250 ग्राम टेंटी

½ कप सरसों का तेल

Advertisement

½ काली मिर्च पाउडर

¼ टी स्पून लाल मिर्च पाउडर

Advertisement

1 टी स्पून सौंफ पाउडर

2 टी स्पून नमक

¼ टी स्पून अजवाइन पाउडर

¼ टी स्पून हींग

1 टी स्पून हल्दी पाउडर

2 टेबल स्पून पीली सरसो का पाउडर

1 टेबल स्पून विनेगर

विधि

  • टेंटी के डंठल तोड़कर पानी से धोकर पानी पूरा सूखा लें और अब एक एयर टाइट कंनटेनर में नमक डालकर मिलाकर 3-4 दिन के लिए रख दें। ध्यान रहे कि दिन में एक बार चम्मच से हिलाते रहें।
  • एक पेन में सरसो का तेल डालकर गैस को धीमी आंच पर चालू करें। तेल को अच्छे से गर्म करें और गैस बंद करें। टेंटी को एक बड़े बोल में निकाल लें।
  • अब तेल में हींग, सोंफ पाउडर, हल्दी पाउडर और टेंटी डालकर अच्छे से मिलाकर मसाले डालें नमक, काली मिर्च पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, सरसो का पाउडर और विनेगर डालकर चम्मच से अच्छे मिलाएं और ठंडा हो जाने पर एक कांच के कनटेनर में भरकर रखें, और इसे 3-4 दिन बाद खाएं।   

आम का मीठा अचार

सामग्र

1 किलो कच्चा आम

1 किलो गुड़

1 कप तेल

2 टेबल स्पून सौंफ

1 टेबल स्पून मेथीदाने

2 टेबल स्पून राई

2 टेबल स्पून लाल मिर्च पाउडर

2 टेबल स्पून कशमीरी लाल मिर्च पाउडर

1 टेबल स्पून जीरा

1 टेबल स्पून अजवाइन

2 टेबल स्पून खड़ा धनिया

 ½ कप हल्दी पाउडर

½ टी स्पून हींग

नमक स्वादानुसार

विधि

  • कच्चे आम को पानी से धोकर कपड़े से पोंछकर साफ कर लें और चाकू से बारीक पीस करें। एक पेन को गैस पर रखकर धीमी आंच पर चालू करें और खड़ा धनिया, सौंफ, जीरा, अजवाइन और मेथीदाने भूनें, और ठंडा हो जाने पर मिक्सर के जार में दरदरा पीसकर तैयार करें।
  • अब अचार बनाने के लिए एक बड़े बोल में भूने मसाले का पाउडर, राई दाल, हल्दी पाउडर, कश्मीरी लाल मिर्च पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, हींग, नमक, गुड़ और सरसो का तेल डालकर चम्मच से अच्छे से मिला लें। ध्यान रहे कि सरसो के तेल को एक बार अच्छे से गर्म करके एक बार थोड़ा ठंडा करें फिर अचार में डालें।
  • मसाला अच्छे से मिल जाने पर कटे कच्चे आम डालकर अच्छे से मिलाकर कांच के कंटेनर में अचार डालकर रख दें और चम्मच से चलाते रहें। और  तैयार है आम का खट्टा मीठा अचार इसे आप पराठे या पुड़ी के साथ भी खा सकते हैं।

हरी मिर्च का अचार

सामग्री

500 ग्राम मोटी हरी मिर्च

3 टी स्पून मेथीदाना

3 टी स्पून राई

1 टी स्पून अजवाइन

4 टी स्पून सौंफ

2 टेबल स्पून सरसो का तेल

½ टी स्पून हींग

 1½ टी स्पून अमचूर पाउडर

1 टी स्पून लाल मिर्च पाउडर

1½ टी स्पून नमक

विधि

  • सबसे पहले हरी मिर्च को पानी से धोकर एक साफ कपड़े से पोछकर साफ करें। चाकू से बीच में ऐसे काटे कि दो फाक हो जाएं, लेकिन मिर्च के दो न टुकड़े ना हो डठंल भी मिर्च में रहने दें।
  • एक कढ़ाई को गैस पर रखकर धीमी आंच पर चालू करें। अब कढ़ाई में मेथीदाना डालकर थोड़ा भून जाने पर राई, अजवाइन और सौंफ डालकर धीमी आंच पर चम्मच से चलाते हुए भूनें।
  • एक कढ़ाई में सरसो का तेल डालकर तेज आंच पर गर्म करें। गर्म तेल में हींग डालकर थोड़ा ठंडा होने दें। अब भूने मसाले को मिक्सर के जार में दरदरा पीसकर एक बड़े बोल में निकाल लें।
  • मसाले में अमचूर पाउडर, लाल मिर्च पाउडर और नमक डालकर सरसो का तेल डालकर चम्मच से अच्छे से मिला लें। अब मसाले को छोटी चम्मच से हरी मिर्च में मसाला भरकर रखें।
  • एक कांच के कंटेनर में मसाला भरी हरी मिर्च कंटेनर में डालकर ऊपर से सरसो का तेल डालकर अच्छे से हिलाएं और 3-4 दिन के लिए धूप में रखें।

भारत के अलग-अलग राज्यों की मशहूर 10 बेस्ट बिरयानी रेसिपी

ये है राजस्थान की पावणा थाली, गृहलक्ष्मी होम शेफ शीतल अग्रवाल ने बताई विधि

Advertisement
Tags :
Advertisement