For the best experience, open
https://m.grehlakshmi.com
on your mobile browser.

हर वॉश के बाद बालों में चाहिए हेयर स्पा जैसी शाइन तो सही कंडीशनर चुनना है जरूरी: Right Conditioner for Hair

02:00 PM May 09, 2024 IST | Ankita Sharma
हर वॉश के बाद बालों में चाहिए हेयर स्पा जैसी शाइन तो सही कंडीशनर चुनना है जरूरी  right conditioner for hair
Right Conditioner for Hair
Advertisement

Right Conditioner for Hair: 'पता नहीं क्यों मेरे बाल तो रूखे-बेजान होते जा रहे हैं।' ये बात आपने अक्सर हर युवती और महिला के मुंह से सुनी होगी। भारत में बाल ब्यूटी स्टैंडर्ड तय करने वाले माने जाते हैं। ऐसे में बालों की समस्या के कारण अधिकांश युवतियां और महिलाएं परेशान रहती हैं। रूखे, दोमुंह के टूटते बालों की परेशानी सबसे ज्यादा कॉमन है। इन परेशानियों को दूर करने का सबसे आसान तरीका है कंडीशनर। कंडीशनर को भले ही लोग अभी भी कम महत्व देते हों, लेकिन सच्चाई ये है कि यह बालों के लिए किसी मजबूत शील्ड जैसे काम करता है। आइए जानते हैं क्यों कि शैम्पू के बाद कंडीशनर अप्लाई करना इतना जरूरी।

Right Conditioner for Hair
washing hair

बालों की रक्षा करने के लिए सही कंडीशनर चुनना जरूरी है। लेकिन उससे भी जरूरी है यह जानना कि आखिर ये जरूरी क्यों हैं। दरअसल, कंडीशनर आपके बालों को कई प्रकार की सुरक्षा देता है। यह बालों को मॉइस्चराइज करता है, उन्हें टूटने से बचाता है, उन्हें वॉल्यूम देता है, आपके हेयर कलर की रक्षा करता है, दोमुंह के बालों से राहत दिलाता है। इतना ही नहीं यह कमजोर बालों को मजबूती भी देता है। कंडीशनर बालों की जड़ों के क्यूटिकल स्केल को मेंटेन करता है। इसके कारण बालों के बीच घर्षण कम होता है और उनकी चमक बनी रहती है।

Advertisement

कंडीशनर भी दो प्रकार के होते हैं, शॉवर कंडीशनर और लीव-इन कंडीशनर। ये दोनों ही आपके बालों पर अलग तरह से काम करते हैं। ऐसे में आपको हमेशा अपने बालों की जरूरत के अनुसार इन्हें चुनना चाहिए। हालांकि दोनों में ही कुछ खासियत कॉमन हैं जैसे मॉइस्चराइजिंग, वॉल्यूमाइजिंग, स्मूथिंग और बालों को मजबूत बनाने का फॉर्मूला।  शॉवर कंडीशनर थोड़े समय के बाद धो दिया जाता है। वहीं लीव-इन कंडीशनर लंबे समय तक चलने वाला हाइड्रेशन देता है। यह गर्मी से बालों को बचाता है, जिससे बाल उलझते नहीं हैं।

शैम्पू के बाद बालों पर कंडीशनर लगाना जितना इंपोर्टेंट है, उतना ही जरूरी है सही कंडीशनर का चुनाव करना। आपको हमेशा अपने बालों के टाइप और जरूरत के अनुसार कंडीशनर चुनना चाहिए। अगर आपके बाल रूखे और डैमेज हैं तो आपको हाइड्रेटिंग फॉर्मूले वाला कंडीशनर लेना चाहिए। वहीं अगर बाल पतले और ऑयली हैं तो लाइट कंडीशनर आपके लिए अच्छा ऑप्शन है। कोशिश करें कि आप हमेशा नेचुरल ऑयल, विटामिन और प्रोटीन वाला कंडीशनर ही लें।

Advertisement

कई बार आप कंडीशनर तो लगाते हैं, लेकिन सही तरीके से नहीं लगाने के कारण उसका पूरा फायदा नहीं मिल पाता। ऐसे में कंडीशनर लगाते समय कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है। कंडीशनर को कभी भी बालों की रूट्स और स्कैल्प में बहुत ज्यादा न लगाएं। कंडीशनर को बालों में लगाएं। उसे अच्छे से वॉश करना बेहद जरूरी है। अगर स्कैल्प पर कंडीशनर लगा रह जाता है तो यह जलन और एलर्जी का कारण बन सकता है।

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement