For the best experience, open
https://m.grehlakshmi.com
on your mobile browser.

खूबसूरती में इजाफा करने में कामयाब ए.आई: AI Beauty

11:00 AM May 12, 2024 IST | Pinki
खूबसूरती में इजाफा करने में कामयाब ए आई  ai beauty
AI Beauty
Advertisement

AI Beauty: आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस ने कई क्षेत्रों में अपनी एक अलग भूमिका निभाई है, खासकर सौंदर्य के क्षेत्र में इसने अपनी पहचान बनाई है। आज की पीढ़ी स्किन केयर समाधानों से लेकर वर्चुअल मेकअप ट्राई-ऑन तक सब कुछ जानती है। बड़ी मात्रा में डाटा तक पहुंच के साथ, एआई उपकरण रुझानों की पहचान करने, फॉर्मूला को अनुकूलित करने और यहां तक कि ग्राहकों की जरूरतों के अनुरूप पूरी तरह से नये उत्पादों का सुझाव देने में मदद कर सकते हैं।

टेक्नोलॉजी ने प्रोडक्ट डेवलपमेंट और मार्केटिंग से लेकर उपभोक्ता का अनुभव और डिलीवरी सर्विस तक ब्यूटी उद्योग के हर पहलू में क्रांति ला दी है। 3डी प्रिंटिंग, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, वर्जुअल रिएलिटी और संवर्धित वास्तविकता जैसी प्रगति ने ब्यूटी प्रोफेशनल और कंज्यूमर्स के लिए नई संभावनाएं खोल दी हैं। ब्यूटी इंडस्ट्री में ग्लोबल आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस सालाना 20 प्रतिशत की अपेक्षित चक्रवृद्धि दर से लगातार बढ़ रहा है। शायद इसीलिए इंडस्ट्री के रेवेन्यू पर सकारात्मक असर पड़ा है। ब्यूटी और कॉस्मेटिक्स मार्केट साइज पहले से ही 2027 में बढ़कर 663 बिलियन डॉलर होने का अनुमान है।

Also read : महिलाओं का संकट मोचन-आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस: Artificial Intelligence Effects

Advertisement

जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी पारंपरिक ब्यूटी प्रैक्टिस को नया आकार दे रही है, खुद को नई टेक्नोलॉजी को लेकर अप-टू-डेट रखना डिजिटल युग में ब्यूटी प्रोफेशनल्स के लिए बेहद जरूरी हो गया है। ब्यूटी इंडस्ट्री में शिक्षा और बदलावों को अपनाने की क्षमता के महत्व को कम करके नहीं आंका जा सकता। तेजी से बदलते परिदृश्य में जहां टेक्नोलॉजी तेजी से प्रमुख भूमिका निभा रही है, खुद को अप-टू-डेट रखना, फ्लेक्सिबल होना और नए विचारों के लिए खुला रहना ही सफलता की कुंजी है।

स्किन एनालिसिस हुआ आसान

ब्यूटी इंडस्ट्री में एआई एक बहुत बड़ा बदलाव लेकर आया है। यह एक अलग परख और क्षमताएं प्रदान करता है। इसके एल्गोरिदम के जरिए उपभोक्ता की पसंद को समझकर प्रभावी परिणाम दिया जा सकता है। यह ग्राहक के व्यक्तिगत दृष्टिकोण और उसके अनुभव को बेहतर बनाता है, जिससे संतुष्टि बढ़ती है। एआई-संचालित स्किन केयर ऐप्स के माध्यम से, उपयोगकर्ता को त्वचा संबंधी दिक्कतों में विश्लेषण और निदान करने में मदद मिलती है। त्वचा का विश्लेषण करके, ये टूल्स स्किन संबंधित समस्याओं की पहचान करते हैं और फिर उसके अनुसार उपयोगकर्ता को स्किन केयर रूटीन व प्रोडक्ट्स की सलाह देते हैं। इन डिवाइस का उपयोग करना भी आसान है और कस्टमर को घर बैठे ही अपनी समस्याओं के लिए सटीक सलाह मिल जाती है। यह दृष्टिकोण कस्टमर को अपने ब्यूटी रूटीन को बेहतर बनाने में मदद करता है। इसे आजमाकर उन्हें अच्छे परिणाम भी मिल सकते हैं। इसी तरह, कुछ टूल्स में आपको अपने बालों से जुड़ी कुछ समस्याएं दर्ज करनी होती हैं और आपकी समस्या का निदान करने के साथ-साथ बालों के प्रकार और उनकी समस्या से संबंधित सलाह भी मिलती है।

Advertisement

वर्चुअल ट्राई-ऑन अनुभव

वह समय गया जब आपको मेकअप को टेस्ट करने या ब्यूटी प्रोडक्ट को खरीदने के लिए एक दुकान से दूसरी दुकान तक जाना पड़ता था। टेक्नोलॉजी के माध्यम से यह हमारे लिए आसान भी हो गया है। एआई की वर्चुअल ट्राई-ऑन तकनीक आज कस्टमर्स को अलग-अलग लुक के साथ प्रयोग करने का अवसर देती है। आपको कहीं जाने की जरूरत नहीं है। आप घर बैठे ही कई मेकअप लुक और हेयरस्टाइल ट्राई कर सकती हैं। आप इन्हें अपने घर बैठे आराम से चुन सकते हैं। इससे न केवल ऑनलाइन खरीदारी का अनुभव बेहतर होता है बल्कि प्रोडक्ट को लेकर असंतुष्टि का जोखिम भी कम हो जाता है।

प्रोडक्ट फॉर्मूलेशन हो रहा है बेहतर

एआई ब्रांडों को समय के साथ अपने प्रोडक्ट फॉर्मूलेशन को लगातार बेहतर बनाने में सक्षम बनाता है। जैसे-जैसे नया डेटा उपलब्ध होता है और कंज्यूमर की प्राथमिकताएं विकसित होती हैं, एआई एल्गोरिदम इस जानकारी का विश्लेषण कर सकता है और प्रोडक्ट को और भी अधिक प्रभावशाली बनाने के लिए उसके फॉर्मूलेशन में कुछ बदलावों व समायोजन का सुझाव दे सकता है। पर्सनलाइज्ड प्रोडक्ट डेवलपमेंट में एआई का उपयोग करने के प्रमुख लाभों में से स्किन टाइप और सामग्री की प्रभावशीलता का विश्लेषण करने की क्षमता है। यह ब्यूटी ब्रांडों को ऐसे प्रोडक्ट बनाने में मदद करती है, जिससे उनके टारगेट कंज्यूमर उनके साथ गहरे स्तर पर जुड़ते हैं।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement