For the best experience, open
https://m.grehlakshmi.com
on your mobile browser.

नारियल की चटनी क्यों है फायदेमंद, जानिए: Coconut Chutney Benefits

अगर आप साउथ इंडियन फूड लवर हैं तो एक ऐसी चीज है जिसका सेवन आप हर चीज के साथ कर सकते हैं और वह है नारियल की चटनी। आइए जानते हैं इसके लाभों के बारे में।
02:30 PM Jun 10, 2023 IST | Madhu Goel
नारियल की चटनी क्यों है फायदेमंद  जानिए  coconut chutney benefits
Coconut Chutney Benefits
Advertisement

Coconut Chutney Benefits" नारियल की चटनी अधिकतर भारतीय लोगों को पसंद है फिर चाहे वह साउथ में रहते हों या नॉर्थ में और हमारे देश की खूबसूरती ही यहां के अलग अलग खाने में है। साउथ इंडियन खाने के साथ इस चटनी को सर्व किया जाता है लेकिन अगर आपको यह पसंद आ जाती है तो आप इसे किसी भी डिश के साथ खा सकते हैं। आप इसका सेवन अधिकतर स्नैक्स या फिर मीठी चीजों के साथ भी कर सकते हैं। इस चटनी को बनाने के लिए काफी बेसिक इंग्रेडिएंट्स का प्रयोग किया जाता है जैसे नारियल, जीरा, हरी मिर्च, अदरक और धनिया। यह चटनी केवल खाने में ही स्वादिष्ट नहीं है बल्कि इसके काफी सारे स्वास्थ्य लाभ भी हैं।

पाचन के लिए है काफी लाभदायक

Coconut Chutney Benefits
Coconut Chutney Benefits for Digestion

नारियल में फाइबर की मात्रा ज्यादा होती है और फाइबर आपके पाचन तंत्र के लिए काफी सहायक होता है। इससे बाउल मूवमेंट में लाभ मिलता है। अगर आप डायरिया, अपाचन, कब्ज जैसी समस्याओं का सामना कर रहे हैं तो नारियल की चटनी का सेवन करने से यह सारी समस्याएं खत्म की जा सकती हैं।

एंटी बैक्टीरिया का काम करती है

Anti bacteria
Coconut Chutney Benefits for Anti-bacteria

नारियल की चटनी में एंटी बैक्टिरियल गुण होते हैं और यह आपके शरीर में मौजूद बैक्टीरिया को मारने में सक्षम हैं। इसलिए अगर आपको कभी कभार लगता है कि आपको बैक्टिरियल इन्फेक्शन से या शरीर में बैक्टीरिया का जमाव हो रखा है तो आप इस चटनी का सेवन करके बैक्टीरिया से मुक्ति पा सकते हैं।

Advertisement

ब्लड प्रेशर रेग्यूलेट करने में मददगार

Blood pressure

जो लोग ब्लड प्रेशर के मरीज हैं और अधिक ब्लड प्रेशर लेवल से परेशान हैं उन्हें रोजाना इस चटनी का सेवन करना चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि नारियल की चटनी आपके शरीर का ब्लड प्रेशर लेवल कंट्रोल करने में मदद करती है और यह आपके दिल की सेहत के लिए भी लाभदायक है।

दिल की सेहत के लिए लाभदायक

heart health
Heart Health

नारियल में ऐसे पौष्टिक तत्व होते हैं जो एलडीएल और एचडीएल को कंट्रोल करने में मदद करते हैं। इसलिए नारियल आपकी कार्डियो वैस्कुलर सेहत के लिए हेल्दी इंग्रेडिएंट माना जाता है। नारियल की चटनी का सेवन करना आपके दिल की सेहत के लिए बहुत ही लाभदायक है और इससे बीमारियां दूर रहती हैं।

Advertisement

मेटाबोलिक रेट को बूस्ट करने में सहायक

metabolic rate
metabolic rate

नारियल की चटनी आपके शरीर का मेटाबोलिक रेट बढ़ाने में मदद कर सकती है। इसका मतलब है आपका शरीर खाने को एनर्जी में तब्दील करता है और आपको सारा दिन एनर्जेक्टिक महसूस होता है। इससे आप काफी प्रोडक्टिव भी फील कर सकते हैं।

रोजाना कितनी मात्रा में नारियल की चटनी का सेवन करना चाहिए? 

coconut chutney

एक्सपर्ट्स के मुताबिक नारियल की चटनी में सैचुरेटेड फैट की मात्रा ज्यादा होती है इसलिए इसका सेवन ज्यादा मात्रा में करना भी आपकी सेहत के लिए अच्छा नहीं है। अगर आप इसे रोजाना खाते हैं तो इसकी मात्रा को 2 से 3 चम्मच से ज्यादा न लें।

Advertisement

घर पर नारियल की चटनी कैसे बनाएं? 

नारियल की चटनी के फायदे
Coconut Shampoo

सबसे पहले नारियल को ग्रेट कर लें और उसे पीस कर एक अच्छा सा पेस्ट बना लें। एक पैन में थोड़ा सा घी या तेल एड करें। तेल के गर्म हो जाने पर इसमें राई, सुखी हुई लाल मिर्च का तड़का लगा सकते हैं। इन्हें जलाने से बचाने के लिए चलाते रहें। जब यह पेस्ट तैयार हो जाए तो इसमें नारियल वाला पेस्ट एड कर दें और अब आपकी चटनी तैयार है।

यह भी देखे-Apple iPhone को लेकर बड़ी खबर

नारियल की चटनी काफी स्वादिष्ट होती है और इसे अपनी डाइट में एड करना आपके लिए काफी लाभदायक हो सकता है।

FAQ | क्या आप जानते हैं

कोकोनट चटनी क्या है?

कोकोनट चटनी एक प्रकार की भारतीय चटनी है जो नारियल के मीठे ताजगी और मसालों का मिश्रण होता है। यह आमतौर पर डोसा, इडली, वड़े और दक्षिण भारतीय व्यंजनों के साथ सर्विंग की जाती है।

कोकोनट चटनी के लिए कौन से सामग्री की आवश्यकता होती है?

कोकोनट चटनी बनाने के लिए आपको नारियल के टुकड़े, हरा मिर्च, दही, इमली, हींग, नमक, और पुदीना पत्तियों की जरूरत होती है।

कोकोनट चटनी कैसे बनाई जाती है?

कोकोनट चटनी बनाने के लिए, सबसे पहले नारियल को कद्दूकस करें या छोटे टुकड़ों में कट लें। फिर नारियल, हरी मिर्च, दही, इमली का रस, हींग, नमक और पुदीना पत्तियां ब्लेंडर में डालें और मिक्सी में पीस लें। चटनी तैयार हो जाएगी।

 कोकोनट चटनी को कितने दिन तक स्टोर किया जा सकता है?

कोकोनट चटनी को एक से दो दिन तक ताजा बने रहने के लिए फ्रिज में स्टोर किया जा सकता है।

कोकोनट की चटनी  को किसके साथ खाया जाता है?

कोकोनट की चटनी अक्सर दक्षिण भारतीय व्यंजनों के साथ परोसी जाती है। इसे डोसा, इडली, वडा, उपमा और परांठे के साथ खाया जाता है।

कोकोनट(खोपर) की चटनी बनाने के लिए कौन-कौन सामग्री की आवश्यकता होती है?

 ताजा नारियल
- हरी मिर्च
- प्याज
- जीरा
- नमक
- लाल मिर्च पाउडर
- उबले चावल

नारियल की चटनी कितने समय तक रखी जा सकती है?

ये चटनी बंद करके ताजगी से भरे हुए एक कंटेनर में फ्रिज में  लगभग 3-4 दिनों तक अच्छी रूप से रखी जा सकती है।

Advertisement
Tags :
Advertisement