For the best experience, open
https://m.grehlakshmi.com
on your mobile browser.

बेडरूम में पार्टनर से नजदीकी है रिश्ते की मजबूती का आधार, जानिए इसके फायदे: Physical Relation Benefits

11:00 PM Jun 26, 2024 IST | Ankita Sharma
बेडरूम में पार्टनर से नजदीकी है रिश्ते की मजबूती का आधार  जानिए इसके फायदे  physical relation benefits
Physical Relation Benefits
Advertisement

Physical Relation Benefits: किसी भी कपल का रिश्ता कितना मजबूत है, यह बहुत सारे फैक्टर पर निर्भर करता है। इस रिश्ते में प्यार, अपनापन, विश्वास, खुशियों के साथ ही अंतरंगता होना भी जरूरी है। इनमें से किसी भी एक बात की कमी रिश्ते को नुकसान पहुंचा सकती है। रिश्ते में आपके इमोशन जितने मायने रखते हैं उतने ही जरूरी होती हैं आपकी शारीरिक नजदीकियां। यौन अंतरंगता यानी सेक्सुअल इंटिमेसी किसी भी कपल की शारीरिक और भावनात्मक अंतरंगता दोनों को बढ़ावा दे सकती है, जिससे मजबूत बंधन और संबंधों की भावना पैदा होती है। क्यों है यौन अंतरंगता जरूरी, यह जानना हर कपल के लिए बेहद जरूरी है।

Physical Relation Benefits
Often couples like to spend all kinds of time with each other in the beginning of the relationship.

अक्सर कपल रिश्ते की शुरुआत में एक दूसरे के साथ हर तरह का समय बिताना पसंद करते हैं। इस हनीमून पीरियड में वे एक दूसरे की नजदीकियों को भरपूर एंजॉय करते हैं। समय के साथ ये नजदीकियां कम होने लगती हैं और रिश्ते में पहली जैसी एनर्जी महसूस नहीं होती। लेकिन अगर आपके रिश्ते में शारीरिक अंतरंगता है तो ये आपके रिश्ते को जवां बनाए रखती है। इससे आप रिश्ते में उत्साह और ऊर्जा महसूस करते हैं। एक स्वस्थ रिश्ते का निर्माण होता है, जिसका जुड़ाव काफी मजबूत होता है।

Advertisement

विशेषज्ञ कहते हैं कि जब किसी कपल के रिश्ते में नजदीकियां कम होती हैं, तो रिश्तों की नींव हिलने की आशंका भी रहती है। जब आप एक दूसरे से शारीरिक रूप से अंतरंगता के बंधन में बंधे होते हैं तो रिश्ता भावनात्मक रूप से भी ज्यादा मजबूत होता है। दिनभर के काम और थकान के बाद आप इसे किसी भी कपल का क्वालिटी टाइम कह सकते हैं।

आज भी भागदौड़ भरी जिंदगी में शायद ही कोई ऐसा शख्स है, जिसे स्ट्रेस, तनाव न हो। लेकिन जब आप अपने पार्टनर के नजदीक होते हो, तो आपका तनाव दूर होता है। फिजिकल इंटीमेसी आपके तनाव को कम करने और चिंता व अवसाद को दूर करने में मदद कर सकती है। इससे ऑक्सीटोसिन और डोपामाइन जैसे हार्मोन का स्राव होता है, जो प्यार की भावना को बढ़ावा देते हैं। इससे आपको अंदर से खुशी का एहसास होता है।

Advertisement

पार्टनर से नजदीकियां आपको फिजिकल ही नहीं मेंटल सपोर्ट भी देती हैं। इससे आपका आत्मविश्वास बढ़ता है। आपकी असुरक्षा की भावना कम होती है और आप पॉजिटिव सोचने लगते हैं। साल 2015 में चीन में हुए एक अध्ययन में सामने आया कि सहमति से बनाया गया शारीरिक संबंध कपल को खुशी देता है। इससे एंडोर्फिन हार्मोन रिलीज होता है, जिससे डिप्रेशन कम होता है। वहीं ऑक्सीटोसिन आपको संतुष्टि देता है। सेक्स तनाव के हार्मोन कोर्टिसोल और एड्रेनालाईन के लेवल को कम करता है। जिसका प्रभाव अगले दिन तक आप महसूस करते हैं। इससे प्रोलैक्टिन हार्मोन का स्तर भी बढ़ता है, जिससे नींद की गुणवत्ता बढ़ती है। इन सबका असर आपके रिश्ते पर पड़ता है।

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement