For the best experience, open
https://m.grehlakshmi.com
on your mobile browser.

करवाचौथ के दिन क्यों बनाई जाती है कढ़ी, जानिए इसके पीछे की वजह: Kadhi on Karwa Chauth 2023

10:00 AM Nov 01, 2023 IST | Pinki
करवाचौथ के दिन क्यों बनाई जाती है कढ़ी  जानिए इसके पीछे की वजह  kadhi on karwa chauth 2023
Kadhi on Karwa Chauth 2023
Advertisement

Kadhi on Karwa Chauth 2023: कार्तिक मास की कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को करवाचौथ मनाया जाता है। इस दिन सुहागिन महिलाएं अपने पति की लंबी उम्र और अच्छे स्वास्थ्य के लिए निर्जला व्रत करती हैं। ये पर्व न सिर्फ भारत में बल्कि विदेशों में भी मनाया जाता है। इस दिन महिलाएं सौलह शृंगार कर पूजा-अर्चना करती हैं। त्यौहार को लेकर कई जगह अलग परम्पराएं हैं। जैसे कई जगह इस व्रत की शुरुआत ब्रह्म मुहूर्त में सरगी खाकर होती है, तो वहीं कई जगह पारण में कढ़ी बनाने की परंपरा है, खासकर उत्तर भारत में। लेकिन क्या आप जानते हैं कि करवाचौथ के दिन कढ़ी क्यों बनाई जाती हैं। आइये जानते हैं-

क्या है कढ़ी बनाने की परंपरा

वैसे तो करवाचौथ के दिन महिलाएं तरह-तरह के पकवानों से रसोई को भर देती हैं लेकिन इन पकवानों के बीच कढ़ी सबसे अहम होती है। दरअसल, हिन्दू धर्म में पीले रंग का विशेष महत्त्व है। इसलिए इस दिन पीले रंग के तौर पर कढ़ी बनाए जाने की परंपरा है। अन्य कई चीज़ें भी बनाई जाती हैं लेकिन इसमें कढ़ी अहम भोजन होता है। माना जाता है कि इस दिन पीले रंग के पकवानों का सेवन करने से परिवार में सुख-समृद्धि बनी रहती है।

कैसे बनाई जाती करवाचौथ पर कढ़ी

 Kadhi on Karwa Chauth 2023
Karwa Chauth 2023

करवाचौथ पर बनाई जाने वाली कढ़ी भी अन्य ही कढ़ी की तरह बनाई जाती है। आइये जानते हैं रेसिपी

Advertisement

सामग्री

  • बेसन-1 कटोरी
  • दही-1 कटोरी या छाछ-1 बड़ा ग्लास
  • लाल मिर्च-आधा चम्मच
  • धनिया पाउडर-आधा चम्मच
  • हल्दी-एक चौथाई चम्मच
  • जीरा-एक चौथाई चम्मच
  • साबुत धनिया-आधा चम्मच
  • हरी मिर्च-2 बारीक़ कटी
  • एक बड़ा प्याज-बारीक कटा हुआ
  • लहसुन-दो कलियां
  • अदरक-आधा इंच बारीक कटा हुआ
  • करी पत्ता-दो टहनी
  • नमक-स्वादानुसार

विधि

  • दही को अच्छे से मथ लेने के बाद उसमें आधा कटोरी बेसन अच्छे से घोल लें और मिश्रण को साइड में रख दें।
  • बाकी बचे बेसन में थोड़ा सा कटा हुआ प्याज, हरी मिर्च, नमक मिलाकर पकौड़े के लिए मिश्रण तैयार करके साइड में रखें।
  • अब एक कढ़ाई को गैस पर रखें और उसमें तेल डालकर गर्म करें।
  • तेल के गर्म होने के बाद उसमें जीरा चटकाएं।
  • अब बेसन और दही के तैयार घोल को धीरे-धीरे कढ़ाई में डालें और उबाल आने तक कलछी से चलाते रहें।
  • उबाल आने के बाद 15 से 20 मिनट तक उसको पकाएं, जब कढ़ी गाढ़ी हो जाए तो गैस बंद कर दें।
  • अब एक अन्य कढ़ाई में पकोड़े के तैयार मिश्रण से गर्म तेल में पकौड़े बनाकर तैयार कर लें। तैयार पकौड़ों को तैयार कढ़ी में डाल दें।
  • अब कढ़ी में तड़का लगाने के लिए एक पैन को गैस पर गर्म करके उसमें तेल डालें।
  • ग्राम तेल में जीरा, साबुत धनिया, कड़ी पत्ता और हींग डालकर भून लें।
  • अब कटा हुआ प्याज, अदरक और लहसुन डालकर भूनें।
  • अब उसमें लाल मिर्च, धनिया पाउडर और हल्दी डालकर भूनें जब सभी मसाले भून जाएं तो तड़के को कढ़ी में डालकर ढंक दें। हरा धनिया डालकर चावल या रोटियों के साथ सर्व करें।
Advertisement
Tags :
Advertisement