For the best experience, open
https://m.grehlakshmi.com
on your mobile browser.

मृत व्यक्ति के गहने और कपड़े पहनने से पहले जान लें ये ज़रूरी बातें, वरना हो सकती है परेशानी: Hindu Belief

06:00 AM May 29, 2024 IST | Ayushi Jain
मृत व्यक्ति के गहने और कपड़े पहनने से पहले जान लें ये ज़रूरी बातें  वरना हो सकती है परेशानी  hindu belief
Hindu Belief
Advertisement

Hindu Belief: कई बार अनजाने में की गई गलतियों के कारण जीवन में छोटे-मोटे कामों में भी अड़चनें आने लगती हैं। लाख कोशिशों के बाद भी सफलता हाथ नहीं लगती। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, इन अड़चनों का कारण पितृ दोष हो सकता है। पितृ दोष तब होता है जब कुंडली में सूर्य, राहु या केतु का संबंध नौवें भाव से होता है। मृत व्यक्ति की वस्तुओं को धारण करना भी पितृ दोष का कारण बन सकता है। जीवन का शाश्वत सत्य है मृत्यु। जन्म लेने वाला हर प्राणी एक दिन इस संसार को त्याग देगा। मृत्यु के बाद व्यक्ति की यादें और उससे जुड़ी वस्तुएं ही रह जाती हैं। लेकिन, ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, मृत व्यक्ति की कुछ वस्तुओं का प्रयोग वर्जित माना जाता है, विशेष रूप से उनके कपड़े और गहने।

Also read: क्या आपको भी आए हैं मरने के सपने? जानें इसके पीछे की वजह: Death Dream Meaning

किन चीजों को नहीं करना चाहिए धारण

ज्योतिषाचार्य के अनुसार, मृत व्यक्ति की कुछ वस्तुओं को धारण करना अशुभ माना जाता है। इनमें मृतक के कपड़े, जूते, घड़ी, गहने और बिस्तर शामिल हैं। इन वस्तुओं को धारण करने से पितृ दोष हो सकता है, जिसके कारण जीवन में अनेक प्रकार की बाधाएं आ सकती हैं। मृतक की वस्तुओं को धारण करने से पितृ दोष उत्पन्न हो सकता है, जिसके कारण नौकरी, व्यापार, स्वास्थ्य, वैवाहिक जीवन आदि में बाधाएं आ सकती हैं। मृतक की वस्तुओं में नकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है, जो आपके जीवन में नकारात्मकता ला सकती है। मृतक की वस्तुओं को धारण करने से मन में अशांति और बेचैनी का अनुभव हो सकता है।

Advertisement

ज्योतिषाचार्य के अनुसार, गरुण पुराण में बताया गया है कि मृत व्यक्ति की वस्तुओं में उस व्यक्ति का मोह समाया हुआ होता है। जब आप इन वस्तुओं का उपयोग करते हैं, तो मृतक की आत्मा आपसे संपर्क करने का प्रयास करती है, जिसके कारण आपके जीवन में नकारात्मकता आती है। मृतक की वस्तुओं में नकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है, जो आपके जीवन में नकारात्मकता ला सकती है। इन वस्तुओं का उपयोग करने से मन में अशांति और बेचैनी का अनुभव हो सकता है। जीवन में छोटे-मोटे कामों में भी अड़चनें आने लगती हैं। लाख कोशिशों के बावजूद भी सफलता प्राप्त नहीं होती। मृत व्यक्ति की वस्तुओं का उपयोग न करें। इन्हें जला दें, दान कर दें या किसी धार्मिक स्थान पर रख दें।

गहनों को धारण करना चाहिए या नहीं ?

यदि आप किसी मृत व्यक्ति का कीमती सोने का आभूषण इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो ज्योतिषाचार्य संतोष कुमार के अनुसार, आपको निम्नलिखित सावधानियां बरतनी चाहिए। सबसे पहले, आभूषण को गलवाकर उसका रूप बदलवा लें। उदाहरण के लिए, यदि यह सोने की चेन है, तो आप इसे कंगन में बदलवा सकते हैं। ऐसा करने से मृत व्यक्ति का मोह आभूषण से कम होगा। आभूषण के अलावा, मृत व्यक्ति की अन्य सभी वस्तुओं को 24 घंटे के अंदर घर से बाहर निकाल दें या नदी में प्रवाहित कर दें। इन वस्तुओं को भूलकर भी इस्तेमाल न करें। मृत व्यक्ति के आभूषण का उपयोग करते समय सावधानी बरतें। यदि आपको कोई नकारात्मक अनुभव होता है, तो तुरंत इसका उपयोग बंद कर दें और किसी योग्य ज्योतिषाचार्य से सलाह लें।

Advertisement

कपड़ों को धारण करने से क्या होता है ?

गरुड़ पुराण के अनुसार, मृत व्यक्ति के कपड़े पहनने से बचना चाहिए। इन कपड़ों में मृतक की आत्मा का मोह बसा रहता है, और इन्हें पहनने से नकारात्मक ऊर्जा और पितृ दोष का प्रभाव हो सकता है। मृत व्यक्ति के कपड़ों में नकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है, जो आपके जीवन में नकारात्मकता ला सकती है। मृत व्यक्ति की आत्मा इन कपड़ों से जुड़ी रह सकती है, और इनका उपयोग करने से आपको उनकी आत्मा से परेशानी हो सकती है। मृत व्यक्ति के कपड़ों का उपयोग करने से पितृ दोष उत्पन्न हो सकता है, जिसके कारण जीवन में अनेक प्रकार की बाधाएं आ सकती हैं।

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement