For the best experience, open
https://m.grehlakshmi.com
on your mobile browser.

भारत की इस रहस्यमयी जगह से निकलता है खौलता हुआ गर्म पानी, ऐसी है मान्यता: Mysterious Place

12:00 PM Oct 19, 2023 IST | Ayushi Jain
भारत की इस रहस्यमयी जगह से निकलता है खौलता हुआ गर्म पानी  ऐसी है मान्यता  mysterious place
Mysterious Place
Advertisement

Mysterious Place: भारत में ऐसी कई जगह है जहां पर कुछ ना कुछ अद्भुत और अनोखा पाया जाता है। ऐसी ही कई नदियां यहां पाई जाती है। जिनके बारे में अलग-अलग मान्यताएं हैं। हम आपको इस लेख के द्वारा एक ऐसी जगह के बारे में बताने जा रहे हैं जहां 12 महीने पानी गर्म रहता हैं, तो चलिए जानते हैं वो कौन सी जगह हैं।

यह रहस्म्यी जगह छत्तीसगढ़ के बलरामपुर जिले में है। यह एक ऐसी जगह है जहां जमीन से 12 महीने गर्म पानी निकलता है। ऐसा कहा जाता है कि यह पानी इतना ज्यादा गर्म होता है कि इसमें आसानी से चावल पकाए जा सकते हैं। यहां इस गर्म पानी को देखने के लिए भारी मात्रा में जनता की भीड़ उमड़ती रहती है।

यह जगह बलरामपुर जिले से लगभग 12 किलोमीटर दूर है जिसे तातापानी नाम से जाना जाता है। यह जगह प्राकृतिक रूप से निकलने वाले गर्म पानी के लिए देशभर में प्रसिद्ध है। तातापानी नाम रखने के पीछे भी इसका एक अलग महत्व है। ताता का अर्थ होता है गर्म और पानी का मतलब होता है जल। यहां हमेशा गर्म पानी निकलता है इसलिए इसका नाम तातापानी रखा गया है।

Advertisement

ऐसी है मान्यता

इस अद्भुत रहस्म्यी जगह को लेकर ऐसा माना जाता है कि भगवान श्री राम ने एक बार खेल-खेल में सीता जी की ओर पत्थर फेंका, जो सीता मां के हाथ में रखे गर्म तेल के कटोरे से जा टकराया। जिससे कि थोड़ा सा तेल झलक कर धरती पर गिर गया और जहां-जहां तेल की बूंदे गिरी वहां से गर्म पानी धरती से फुटकर निकलने लगा। इस स्थल की ऐसी मान्यता है कि यहां पर गर्म पानी से स्नान करने से सभी चर्म रोग खत्म हो जाते हैं।

चार सौ साल पुरानी शिव प्रतिमा का महत्व

इस अद्भुत दृश्य को देखने और इसके बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए देशभर से लोग यहां आते हैं। इस स्थल के पास एक शिव मंदिर हैं जिसमें लगभग चार सौ वर्ष पुरानी प्रतिमा स्थापित है। मकर संक्रांति के पर्व पर इस मंदिर का विशेष महत्व है। इस दिन मंदिर में पूजा व अर्चना करने के लिए भक्तों की भीड़ उमड़ती हैं। इस पर्व पर लाखों की संख्या में पर्यटक यहां आते हैं और मकर संक्रांति का त्यौहार मनाते हैं। इतना ही नहीं यहां पर विशाल मेले का आयोजन भी किया जाता है। जिसमें पर्यटक झूलों, मीना बाजार व अन्य दुकानों का आनंद ले सकते हैं।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement