For the best experience, open
https://m.grehlakshmi.com
on your mobile browser.

स्विट्जरलैंड के इस गांव में फ्री में नहीं ले सकते हैं एंट्री, हर व्यक्ति को प्रवेश के लिए देना होगा शुल्क: Lauterbrunnen Village Switzerland

02:30 PM Jun 20, 2024 IST | Nikki Mishra
स्विट्जरलैंड के इस गांव में फ्री में नहीं ले सकते हैं एंट्री  हर व्यक्ति को प्रवेश के लिए देना होगा शुल्क  lauterbrunnen village switzerland
Lauterbrunnen Village Switzerland
Advertisement

Lauterbrunnen Village Switzerland: स्विट्जरलैंड की तुलना स्वर्ग से की जाती है, इसलिए हर व्यक्ति इस खूबसूरत जगह पर जाना चाहता है। यहां के कई ऐसे गांव हैं, जिसकी खूबसूरती देखकर आप मंत्रमुग्ध हो जाएंगे। ऐसा ही एक गांव है, जिसका वनाम लॉटरब्रुनेन है। इस गांव की खूबसूरती को देखने के लिए दुनियाभर के लोग यहां आते हैं। यह यूरोक का सबसे सुंदर गांव माना जाता है। इस गांव में करीब 72 झरने ऊंची पहाड़ियों से गिरते हैं। यहां की शांति और रोमांचक भरे लाइफ को जीने के लिए लोग दूर-दूर से आते हैं, लेकिन भारी के चलते यहां की सरकार काफी परेशान हो रही है। इसके चलते गांव में एंट्री फीस लगाने की तैयारी चल रही है। आइए जानते हैं विस्तार से इस गांव के बारे में-

Also read: जान लीजिए आपकी स्किन को सूरज की चिलचिलाती धूप से कितना बचाते हैं सनस्क्रीन लोशन

Lauterbrunnen Village Switzerland
lauterbrunnen village

लॉटरब्रुनेन गांव काफी खूबसूरत गांव है, जहां के हरे-भरे चारागाह, ऊंचे-ऊंचे पहाड लोगों को अपनी ओर आकर्षित करते हैं। यहां के 72 झरनों के पास अगर आप जाते हैं, तो आपको इसके पास इंद्रधनुष बनता हुआ दिखाई देगा। इस तरह के नजारों को देखना हर किसी के लिए काफी खास एक्सपीरियंस होता है, इसलिए दूर-दूर से इस इलाके में लोग आते हैं।

Advertisement

गांव में लगातार पर्यटकों की संख्या बढ़ती जा रही है। कहा जा रहा है कि कोरोना के खत्म होने के बाद से ही यहां आने वाले लोगों की संख्या काफी तेजी से बढ़ गई है। बता दें कि इस गांव तक जाने के लिए एक ही सड़क है, ऐसे में पर्यटकों की बढ़ती संख्या के कारण यहां काफी ज्यादा जाम लगा रहता है। पर्यटकों की बढ़ती संख्या के कारण वेनिस और क्योटो शहर की तरह ही यह गांव भी ओवर टूरिज्म का शिकार हो गया है। ऐसे में सरकार और प्रशासन इसे नियंत्रित करने के उपाय ढूंढ रही है।

lauterbrunnen
lauterbrunnen

इस गांव में सिर्फ 2400 लोग रहते हैं, जहां पर हर रोज 6 हजार से भी अधिक पर्यटक आ रहे हैं। वहीं, पीक सीजन में पर्यटकों की संख्या 20 हजार से अधिक हो जाती है। गांव के लोगों की संख्या काफी कम है, जिसके चलते वे इतने भीड़ को कंट्रोल नहीं कर पाते हैं। ऐसे में गांव में रहने वाले लोग भी काफी ज्यादा परेशान हो रहे हैं।

Advertisement

कहा जा रहा है कि पर्यटकों को नियंत्रित करने के लिए सरकार और प्रसाशन द्वारा एंट्री शुल्क लेने की तैयारी चल रही है। पहले चरण में यहां स्थित ब्रिएंज लेक के पास जाने के लिए प्रत्येक व्यक्ति को सेल्फी टैक्स 500 रुपये लगाया गया है। वहीं, आगे एंट्री के लिए भी यहां शुल्क लग सकता है।

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement