For the best experience, open
https://m.grehlakshmi.com
on your mobile browser.

प्रेग्नेंसी के दौरान कमर दर्द में राहत पाने के लिए इस्तेमाल करें ये 5 हर्बल ऑयल: Back Pain in Pregnancy

08:30 AM Jun 13, 2024 IST | Nidhi Mishra
प्रेग्नेंसी के दौरान कमर दर्द में राहत पाने के लिए इस्तेमाल करें ये 5 हर्बल ऑयल  back pain in pregnancy
Back Pain in Pregnancy
Advertisement

Back Pain in Pregnancy: प्रेग्नेंसी के दौरान सभी महिलाओं को शारीरिक रूप से कई सारी समस्याओं को सामना करना पड़ता है। इसमें कमर दर्द की समस्या आम है। इस समय कमर दर्द अधिकतर महिलाओं को होता है। गर्भावस्था में हार्मोन्‍स में बदलाव होने के काारण इसका सीधा असर पेल्‍व‍िक एर‍िया के ल‍िगामेंट्स पर पड़ता है। इसी वजह से महिलाओं को कमर में दर्द महसूस होता है। इसके अलावा प्रेग्नेंसी शरीर का वजन बढ़ने की वजह से भी कमर में दर्द होता है। साथ ही इस दौरान खराब बॉडी पॉश्चर की वजह से भी कमर में दर्द की समस्या हो सकती है। ऐसे समय में कमर दर्द की समस्या से राहत पाने के लिए हर्बल ऑयल सबसे बेस्ट ऑप्शन है। इसमें मौजूद जड़ी- बूटी, हड्डी और मसल्स के लिए बहुत फायदेमंद मान जाता है। इसलिए आज हम गर्भावस्था में होने वाले कमर दर्द की समस्या से छुटकारा पाने के लिए हर्बल तेल लेकर आए है। इसकी तेल के इस्तेमाल से आपकी कमर दर्द की समस्या काफी हद तक कम हो जाएंगी, तो चलिए जानते है।

Also read: प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही में न करें ये गलतियां, सकता है मां और बच्चे को नुकसान: Mistakes to Avoid in First Trimester

Back Pain in Pregnancy
Ginger Oil

कमर दर्द होने आप जिंजर ऑयल का इस्तेमाल कर सकते है। ऐसे तो जिंजर ऑयल मार्केट में बहुत आसीन मिल जाता है। लेकिन अगर आप इसे घर पर बनाना चाहते है तो इसके लिए सबसे पहले अदरक को पीसकर पेस्ट तैयार कर लें। अब एक पैन में नारियल के तेल के साथ इस पेस्ट को डालकर अच्छी तरह से पका लें। जब अदरक का अर्क तेल में मिक्स हो जाए, तो इस तेल को छानकर कंटनेर में भरकर रख लें। अदरक में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते है, इसलिए इस तेल को कमर पर लगाने से दर्द में आराम मिलता है।

Advertisement

Rosemary Oil
Rosemary Oil

रोजमेरी ऑयल में एनाल्जेसिक और एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होते है। इस तेल को लगाने से मांसपेश‍ियों की सूजन और दर्द को कम करने में काफी मदद मिलती है। ध्यान रहें रोजमेरी ऑयल को सीधा कमर पर लगाने से बचना चाहिए। इस तेल की 5 से 6 बूंदों को बादाम या फिर जैतून के तेल मिलाकर फिर कमर पर लगाए। इस तेल को लगाने के बाद कम से कम 30 मिनट तक उस जगह को कपड़े से ढककर रखें ताकि तेल का असर हो सके।

Eucalyptus-Oil
Eucalyptus Oil

नीलग‍िरी तेल में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होते है। इस तेल को कमर पर मालिश लगाने से बैक पैन की समस्या दूर हो जाएंगी। इसके लिए नारियल तेल में 4- 5 बूंद नीलग‍िरी तेल की मिला लें। अब इस तेल को कमर को लगाकर 15- 20 मिनट तक मालिश करें। ऐसा करने से आपको काफी ज्यादा आराम मिलेगा और दर्द भी ठीक हो जाएगा।

Advertisement

Peppermint Oil
Peppermint Oil

आप गर्भावस्था में कमर दर्द के लिए पिपरमिंट तेल को भी लगा सकते है। पिपरमिंट ऑयल में मेंथाल भरपूर मात्रा में मौजूद होता है। इससे दर्द और सूजन को कम करने में मदद मिलती है। पिपरमिंट ऑयल को कर‍ियर ऑयल में मिलाकर फिर कमर की मालिश करें। रातभर तेल को कमर पर लगा रहने दें। अगली सुबह कमर दर्द में काफी हद तक राहत मिल जाएगी।

Castor Leaf Oil
Castor Leaf Oil

गर्भावस्था में कमर दर्द से छुटकारा पाना चाहते है, तो आप अंरडी के पत्तों से बना तेल लगा सकते है। यह तेल कमर दर्द को जड़ से खत्म करने में मदद करता है। इस तेल को बनाने के लिए सबसे पहले बादाम तेल में अरंडी के पत्तों को डालकर हल्की आंच पर पका लें. जब तेल आधा हो जाएं, तो इसे छानकर कंटेनर में रख लें। इस तेल को आप प्रेग्नेंसी के दौरान कमर दर्द में मालिश कर सकते है। इस तेल का रोजाना इस्तेमाल करने से कमर दर्द की समस्या से राहत मिलती है।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement