For the best experience, open
https://m.grehlakshmi.com
on your mobile browser.

कई कारणों से हो सकते हैं वेजाइनल पिंपल्स, घरेलू उपचार से करें इलाज़: Vaginal Pimples Remedy

09:30 AM Jun 13, 2024 IST | Nidhi Goel
कई कारणों से हो सकते हैं वेजाइनल पिंपल्स  घरेलू उपचार से करें इलाज़  vaginal pimples remedy
Vaginal Pimples Remedy
Advertisement

Vaginal Pimples Remedy: महिलाओं को वजाइना में बहुत सी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में प्राइवेट पार्ट में फुंसी होना आम बात है लेकिन फुंसी होना जितना आम बात हो सकती है उससे भी ज्यादा कई बार ये किसी बीमारी का संकेत भी हो सकता है। ऐसे में जरूरी है कि आप ये पता लगाएं कि इनके होने का क्या कारण है। कही ये समस्या ज्यादा गम्भीर न बन जाए। क्योंकि जब ये समस्या बढ़ती है तो काफी दर्दनाक साबित हो जाती है। दाने और फुंसी की स्थिति में इनर्स को पहनना, बैठना और चलना सभी कुछ बेहद मुश्किल हो जाता है। क्योंकि इस एरिया में त्वचा काफी संवेदनशील हो जाती है। इस आर्टिकल में हम वेजाइनल पिंपल्स के कारण और उसके घरेलू उपचार के बारे में जानकारी दे रहे हैं।

Also read: योनि की तेज गंध से हैं परेशान, तो इन आसान टिप्स को करें फॉलो: Vaginal Odor Remedy

बैक्टीरिया इंफेक्शन

यदि आपको बार-बार योनि में खुजली और दाने निकल रहे हैं तो इसकी वजह संक्रामक रोग भी हो सकता है। संक्रामक रोग की कई वजह होती है। इसके लिए जरूरी हो जाता है कि आप डॉक्टर की सलाह लें। क्योंकि बैक्टीरियल इंफेक्शन से आपको बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है।

Advertisement

साफ-सफाई पर ध्यान न देना

कई महिलाएं योनि की सफाई में लापरवाह होती है। उनका ध्यान इस ओर होता ही नहीं है कि जिस तरह शरीर के हर हिस्से की सफाई करना जरूरी होता है। वैसे ही योनि की सफाई बेहद जरूरी है क्योंकि ये काफी संवेदनशील जगह होती है। और आपको इंफेक्शन जल्दी घेर लेता है।

बालों को हटाना

अक्सर आजकल महिलाएं वजाइना एरिया में शेविंग या फिर वैक्सिंग करवाती है जिसका असर यह होता है कि जब बाल खिंचते है तो उससे उस एरिया में सूजन या फिर दाने होने की सम्भावना ज्यादा हो जाती है। साथ ही ये समस्या इसलिए गम्भीर बन जाती है क्योंकि यहां नमी हमेशा बनी रहती है। और जिन बालों की अभी ग्रोथ सही से नहीं हुई होती है और पूरी तरह नहीं निकलने के कारण जब उनको आप शेव करने लगते है तो वह त्वचा के अंदर इंफेक्शन फैला देती है।

Advertisement

प्रोडक्ट के इस्तेमाल

Product Uses
Product Uses

कई बार ऐसा होता है जो चीजें हम रोजमर्रा में इस्तेमाल कर रहे होते है। उनका गलत असर हमारे शरीर पर पड़ने लगता है। साबून, डिटरजेंड, परफ्यूम आदि प्रोडक्ट भी आपकी वेजाइना में समस्या पैदा कर सकते हैं।

हार्मोनल में बदलाव

महिलाओं के शरीर में कई बार हार्मोनल बदलाव आते हैं। जब वह गर्भवती होती है या फिर तब जब मेनोपोज का समय आ रहा होता है। ऐसे में वेजाइना में कई सारी दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। फुंसी होने का भी इसका एक कारण है।

Advertisement

वेजाइनल पिंपल्स के लिए घरेलू उपाय

  • सिकाई: अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन के जर्नल में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार आप उस जगह पर सिकाई कर सकती हैं इससे सूजन में आराम मिलेगा साथ ही प्रभावित क्षेत्र में रक्त का संचार भली भांति हो सकेगा।
  • टी ट्री ऑयल पैक: फुंसियों को दूर करने के लिए आप टी ट्री ऑयल का इस्तेमाल कर सकती हैं। क्योंकि ये तेल एंटी बैक्टीरियल होता है। इसका इस्तेमाल आपको इस तरह करना है कि टी ट्री की कुछ बूंदे के बाउल में लें। और कुछ बूंदे नारियल के तेल या फिर ऑलिव तेल की डालें और इसे इन दोनों तेल को मिलाकर रुई की सहायता से प्रभावित जगह पर लगाएं। दस से पंद्रह मिनट लगाएं रखने के बाद धो दें।
  • एलोवेरा जेल: एलोवेरा जेल त्वचा के लिए बेहद फायदेमंद होता है। अगर आप इसे फुंसी पर लगाते हैं तो ये सूजन को हटाकर त्वचा को मुलायम बनाता है। इसके लिए आप थोड़ा सा एलोवेरा जेल लेकर वेजाइना पर हो रहे पिंपल्स पर लगा दें। और दस से पंद्रह मिनट बाद हल्के गर्म पानी से धो दें।
  • एप्पल साइडर विनेगर: एप्पल साइडर विनेगर का इस्तेमाल जितना हम खाने में करते है उतना ही ये त्वचा के लिए फायदेमंद होता है। इससे आपकी त्वचा की काफी समस्या दूर होती हैं। इसे इस तरह इस्तेमाल करें। इसके लिए आप एक टेबल स्पून एप्पल विनेगर लें और एक टेबल स्पून पानी में मिलाकर प्रभावित जगह पर कॉटन की सहायता से लगाएं। दस मिनट बाद धो दें।
  • एप्सम सॉल्ट: एप्सम सॉल्ट एक तरह प्राकृतिक एक्सफोलिएट होता है, जो त्वचा पर से मृत त्वचा को हटाकर पोर्स को साफ करता है। इसके लिए आप एक टेबल स्पून एप्सम सॉल्ट लें और दो से तीन बून्द नल का पानी और इसे मिक्स कर लें। इसे पेस्ट की तरह बनाकर प्रभावित एरिया में लगाएं। और दस से पंद्रह मिनट लगा रहने के बाद धो दें।

इन बातों पर ध्यान दें

  • टाइट फिटिंग के अंडरगारमेंट्स को पहनने से बचें।
  • कॉटन के अंडरवियर को ही पहनें जिससे हवा पास हो सके।
  • डॉक्टर की सलाह से वेजाइना के लिए अच्छे साबुन का इस्तेमाल करें।
  • पसीने वाले अंडरगारमेंट्स में ज्यादा देर तक न रहें।।
  • पीरियड्स के दौरान ज्यादातर देर तक एक ही पैड को लगाकर न रखें।
  • वजाइना को एक दिन में कम से कम दो सुबह और रात को साफ करके और अंडरवियर को चेंज करके सोएं।
  • कहीं भी आप बाहर पब्लिक एरिया में टॉयलेट इस्तेमाल करते समय उसे क्लीन करके ही बैठें।
  • ध्यान रखें कि कभी भी गिले अंडरवियर का इस्तेमाल न करें इससे बहुत जल्दी इंफेक्शन होता है। बिल्कुल साफ सुथरे और धूप में अच्छी तरह सूखे हुए अंडरगार्मेंट्स को ही वियर करें।
  • जो बाल अभी स्किन में ही और अभी उनकी ग्रोथ सही तरह से नहीं हुई है उसे खींचकर या फिर रेजर से निकालने की कोशिश न करें। क्योंकि इससे फुंसियां होने का खतरा बढ़ जाता है। 
Advertisement
Tags :
Advertisement