For the best experience, open
https://m.grehlakshmi.com
on your mobile browser.

सेमी-वेजिटेरियन डाइट के क्या हैं फायदे और क्या हो सकते हैं नुकसान: Semi Vegetarian Diet

07:30 AM Feb 04, 2024 IST | Monika Agarwal
सेमी वेजिटेरियन डाइट के क्या हैं फायदे और क्या हो सकते हैं नुकसान  semi vegetarian diet
Semi Vegetarian Diet
Advertisement

Semi Vegetarian Diet: सेमी-वेजिटेरियन डाइट को फ्लेक्सिट्रिन डाइट के नाम से भी जाना जाता है। यह ईटिंग का वो स्टाइल है जिसमें अधिकतर प्लांट-बेस्ड फूड्स को शामिल किया जाता है और मीट व अन्य एनिमल प्रोडक्ट्स को सीमित मात्रा में लिया जाता है। लेकिन, यह फुल वेजिटेरियन और वीगन डाइट से अधिक फ्लेक्सिबल होती है। सेमी-वेजिटेरियन डाइट आजकल बहुत अधिक प्रचलित हो रही है क्योंकि इसके कई हेल्थ बेनिफिट्स हैं। हालांकि, इसके कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। इस फॉलो करने से पहले जानिए इस डाइट के फायदों और नुकसान के बारे में।

Also read: वेजिटेरियन डाइट लेते हुए भूल से भी ना करें ये 7 गलतियां: Vegetarian Diet Tips

सेमी-वेजिटेरियन डाइट के फायदे

सेमी-वेजिटेरियन डाइट में अधिकतर फल, सब्जियों, दालों, साबुत अनाज आदि को शामिल किया जाता है। इस डाइट के निम्नलिखित फायदे हो सकते हैं:

Advertisement

हार्ट डिजीज से बचाव

Semi Vegetarian Diet
Heart Health

यह डाइट फाइबर और हेल्दी फैट्स से भरपूर होती है, जो हार्ट हेल्थ के लिए फायदेमंद है। स्टडीज में ऐसा पाया गया है कि मीट का सेवन करने वाले लोगों की तुलना में वेजिटेबल ईटर्स में हार्ट डिजीज का जोखिम कम रहता है। इसका कारण यह है कि वेजिटेरियन डाइट में फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट्स अधिक होते हैं, जो ब्लड प्रेशर को सही रखने और गुड कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने में फायदेमंद हैं।

वेट मैनेजमेंट

सेमी-वेजिटेरियन डाइट से वजन को मैनेज करने में मदद मिलती है। ऐसा इसलिए है क्योंकि प्लांट फूड्स खाने से आप नेचुरली कैलोरीज कम मात्रा में लेते हैं। कुछ स्टडीज भी यह बताती हैं कि प्लांट बेस्ड डाइट से वजन कम करने में भी मदद मिलती है। इसलिए जिन लोगों को वजन कम करना हो, उनके लिए यह डाइट फॉलो करना फायदेमंद साबित हो सकता है। शाकाहारी बनना वजन घटाने की गारंटी नहीं है, लेकिन अपने आहार में अधिक प्लांट-बेस्ड फूड्स को शामिल करने से कई लाभ हो सकते हैं।

Advertisement

डायबिटीज

डायबिटीज से पीड़ित लोगों के लिए सही खानपान बहुत अधिक मत्वपूर्ण होता है। सेमी-वेजिटेरियन डाइट में फाइबर अधिक होता है और अनहेल्दी फैट्स व एडेड शुगर कम होते हैं। इसलिए, ब्लड शुगर लेवल को सही रखने में यह डाइट लाभदायक है।

कैंसर 

Cancer
Cancer

कुछ कैंसर से जुड़े रिस्क को कम करने के लिए न्युट्रिशयस प्लांट फूड्स जैसे फल, सब्जियां और फलियां आदि का सेवन करना चाहिए। रिसर्च के अनुसार वेजिटेबल डाइट से सभी तरह के कैंसर, लेकिन विशेष रूप से कोलोरेक्टल कैंसर के रिस्क को कम किया जा सकता है।

Advertisement

सेमी-वेजिटेरियन डाइट के नुकसान

सेमी-वेजिटेरियन डाइट एक वेल प्लांड डाइट है, जिसमे न्यूट्रिशनल वैल्यूज बहुत अधिक होती है। लेकिन, मीट और अन्य एनिमल प्रोडक्ट्स की कमी के कारण कुछ न्यूट्रिएंट्स डेफिशिएंसीज भी हो सकती हैं। इसके कुछ नुकसान इस प्रकार हो सकते हैं:

  • स्टडीज यह बताती हैं कि कम या बिलकुल भी मीट न खाने से विटामिन बी12 की कमी हो सकती है। ऐसे में इस डाइट को फॉलो करने वाले लोगों को विटामिन बी12 के कारण होने वाली हेल्थ प्रॉब्लम्स की शिकायत होती है। 
  • इस डाइट के कारण आयरन की कमी होने की संभावना भी बढ़ सकती है। 
  • सेमी-वेजिटेरियन डाइट को फॉलो करना मीट-ईटर्स के लिए बहुत मुश्किल हो सकता है। अगर आप डायबिटीज से पीड़ित हैं, तो डायबिटीज से पीड़ित लोगों को इस डाइट को डॉक्टर की सलाह के बाद ही फॉलो करना चाहिए। 
Advertisement
Tags :
Advertisement