For the best experience, open
https://m.grehlakshmi.com
on your mobile browser.

शादी के कितने समय बाद करें बच्चे की प्लानिंग, जानें क्या है सही वक्त: Pregnancy Tips

08:30 AM Jul 03, 2024 IST | Pratima Singh
शादी के कितने समय बाद करें बच्चे की प्लानिंग  जानें क्या है सही वक्त  pregnancy tips
Right time to get pregnant after marriage
Advertisement

When To Plan A Baby After Marriage In Hindi: आज के समय में हर व्यक्ति अपना फ्यूचर सोच समझकर प्लान करता है। पहले का जमाना कुछ और था जहां बहुत कम उम्र में लोग शादी कर लेते थे और शादी के कुछ समय बाद ही बच्चे प्लान कर लेते थे लेकिन अब समय बदल चुका है। आजकल महिलाएं भी काफी उम्र बाद शादी करती हैं, जिसकी वजह है उनका करियर और खुद पर फाइनेंशली निर्भर होना। साथ ही लोग यह भी देखते हैं कि क्या महिलाएं बच्चे बच्चा पैदा करने के लिए फिजिकली और मेंटली फिट है या नहीं। सब कुछ अगर सही समय पर हो तो लाइफ के रिस्क फैक्टर काफी कम हो जाते हैं। इसलिए सभी कपल के लिए यह सोचना और समझना जरूरी है कि शादी के कितने समय बाद उन्हें बेबी प्लान कर लेना चाहिए।

Pregnancy Tips-When To Plan A Baby After Marriage In Hindi
When To Plan A Baby After Marriage In Hindi

हर कपल के लिए बच्चा प्लान करने के लिए बराबर समय नहीं लगता है बल्कि यह निर्भर करता है कि किस उम्र में शादी की गई है और एक कपल एक दूसरे को कब से जानते हैं। अगर आपकी शादी यंग एज में हो गई हो जैसे की 20 से 25 साल के अंदर तो आप बेबी प्लान करने के लिए कुछ समय ले सकते हैं लेकिन अगर किसी महिला की उम्र 25 से 30 के बीच हो तो उन्हें बेबी प्लान करने में समय नहीं लगाना चाहिए क्योंकि बढ़ती उम्र के साथ बच्चा कंसीव करने के चांसेस कम होने लगते हैं। 20 से 30 के बीच ही महिलाएं फर्टिलिटी के पीक पर होती हैं। इससे ज्यादा समय होने पर प्रेगनेंसी में भी काफी प्रॉब्लम्स आने के चांसेस होते हैं।

Advertisement

ज्यादा उम्र में कंसीव करने पर महिलाओं को अनेक शारीरिक समस्याओं का सामना करना पड़ता है। साथ ही साथ पुरुषों के स्पर्म की क्वालिटी भी उम्र के साथ गिरने लगती है जो कि बेबी प्लानिंग के लिए एक बड़ी रुकावट बन सकती है। सही मायने में देखा जाए तो बेबी प्लान करने के लिए आपको हर फैक्टर पर ध्यान देना चाहिए, जैसे मेंटल- फिजिकल फिटनेस, म्युचुअल अंडरस्टैंडिंग, फाइनेंशियल सिक्योरिटी इत्यादि।

बेबी प्लैनिंग के लिए यह भी एक बहुत जरूरी फैक्ट है कि दोनों पार्टनर्स एक दूसरे को कितने समय से जानते हैं। पैरंटहुड कोई आसान चीज नहीं है। बच्चों के अच्छे पेरेंटिंग के लिए हसबैंड वाइफ का एक दूसरे के साथ तालमेल अच्छा होना चाहिए। इससे वह अपना रिश्ता और बच्चे के देखभाल दोनों को बहुत अच्छे से मैनेज कर पाएंगे। अगर आपकी लव मैरिज हुई है या आप एक दूसरे को काफी टाइम से जानते हैं तो शादी के कुछ समय बाद ही आप बेबी प्लान कर सकते हैं क्योंकि आपसी तालमेल बैठाने में आपको ज्यादा समय नहीं लगेगा लेकिन अगर आपकी अरेंज मैरिज है और आप एक दूसरे को बहुत कम समय से जानते हैं तो बेबी प्लान करने में थोड़ा समय लेना चाहिए। सबसे पहले आपको एक दूसरे को जानना चाहिए इससे आप मेंटली प्रिपेयर हो जाएंगे कि आप पैरेंट हुड और अपना रिलेशन दोनों बैलेंस कर सकते हैं या नहीं।

Advertisement

physical checkup before pregnancy
physical checkup before pregnancy

बेबी कंसीव करने से पहले आपको डॉक्टर के पास जाकर अपना फिजिकल फिटनेस की जांच करनी चाहिए, जिससे आपको पता चल जाए कि बच्चा पैदा करने के लिए आपको कोई हेल्थ इश्यू तो नहीं है और अगर है तो आपको उनके लिए कौन से कदम उठाने चाहिए।

बेबी कंसीव करने से पहले कपल्स को अपने लाइफस्टाइल में हेल्दी हैबिट्स को शामिल करना चाहिए। अपने अपने खान-पान और सोने के रूटीन का भी खास ख्याल रखना चाहिए, जिससे कि प्रेगनेंसी में कोई समस्या ना आए। कपल्स को किसी भी नशीले पदार्थ का सेवन नहीं करना चाहिए क्योंकि यह आदतें हेल्थ को खराब कर सकते हैं, जिससे आप पर और आपके चाइल्ड पर बुरा प्रभाव पड़ता है। नशीले पदार्थों का सेवन करने से एग और स्पर्म की क्वालिटी भी खराब होने लगती है।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement